रंगीन पंक्तिया

रंगीन सपने,रंगीन समा
इस मौसम में रंग जमा
रंगभरे आसमान तले
रंगीन ख्वाइशो की डोली चले
रंग ना दे अपनी सोच
रंगों की हैं गुजारिश
हर पल में रंग जाना हैं अनोखी खोज

Comments

Arjun said…
Wah. Badi rangeen kavita hai

Popular Posts